यूनिकोड का उपयोग

जैसा कि इसका नाम है। यूनि अर्थात सभी जगह का और कोड का अर्थ लिपि के चिन्ह या अन्य किसी तरह का चिन्ह। इसका उपयोग कम्प्युटर में दूसरे लिपि के अक्षरों को दिखाने के लिए उपयोग किया जाता है। इसके द्वारा आप अपने लिपि में कुछ भी लिख सकते हो और देख भी सकते हो। इसे सहेजकर आप इंटरनेट में किसी ओर को भी उसी लिपि में कोई संदेश भी भेज सकते हो। यह बिलकुल अन्य लिपियों कि तरह ही है।

उपयोग के तरीके

इंटरनेट पर

आप कोई एचटीएमएल पन्ना बना रहे हो तो आप ऊपर में मेटा गुण में utf8 दे सकते हो। इससे ब्राउज़र समझ जाएगा कि आपका पृष्ठ यूनिकोड का उपयोग कर रहा है। यदि आप किसी को इंटरनेट पर बात करते समय कोई अपने लिपि में संदेश भेज रहे हो और उसे कुछ दिखाई न दे तो आप उसे किसी यूनिकोड समर्थन वाले ब्राउज़र का उपयोग करने बोल सकते हो। यदि फिर भी ऐसा होता है तो आप उसे उस लिपि का यूनिकोड फॉन्ट डाउनलोड करने भी बोल सकते हो। इसके बाद भी यदि कोई परेशानी हो तो आप उस संदेश भेजने वाले का उपयोग न करें। कुछ संदेश भेजने वाले अनुप्रयोग यूनिकोड को समर्थन नहीं देते हैं। लेकिन ऐसा बहुत कम बार ही होता है। लगभग सभी लोग यूनिकोड का समर्थन देने का हमेशा प्रयास करते हैं।

कम्प्युटर में

वैसे तो यूनिकोड सभी नए कम्प्युटर में पहले से होता है। लेकिन वह आपकी भाषा को पहचान नहीं पाएगा। अतः आप सबसे पहले यूनिकोड फॉन्ट डाउनलोड कर लें। यह निःशुल्क मिलता है।

मोबाइल में

पुराने मोबाइलों में यूनिकोड सेवा नहीं होती है। लेकिन सभी नए मोबाइल में यह सेवा होती ही है। वैसे कई बार फॉन्ट की समस्या होती है। क्योंकि मोबाइल बनाने वाले हर कंपनी सभी भाषाओं के फॉन्ट को नहीं डालते हैं। कई बार केवल जहाँ व्यापार करना होता है, वहीं के भाषाओं का विकल्प देती है। इस कारण कहीं ओर से मोबाइल लेने से यह समस्या होगी ही।
यदि आपके मोबाइल में भी यह समस्या है तो आप कुछ नहीं कर सकते। केवल आपके पास एक ही उपाय है कि आप उसे बेच कर नया मोबाइल ले लें। लेकिन कुछ मोबाइल में इस समस्या का हल कर सकते हैं। यह स्मार्ट फोन होते हैं, जिसमें आप अपने मन अनुसार कोई भी फॉन्ट डाल सकते हो।

Comments